कोलकाता के इकबालपुर में गुंडों ने पुलिस पर किया हमला
कोलकाता के इकबालपुर में गुंडों ने पुलिस पर किया हमला

कोलकाता: एकबालपुर में रविवार तड़के एक कांस्टेबल के ऊपर कथित तौर पर हमला किया गया और पुलिस की एक टीम ने एकबालपुर में डॉ सुधीर बोस रोड पर स्थानीय अपराधियों के दो गुटों के बीच झड़प रोकने की कोशिश के बाद कथित तौर पर गोलीबारी की ।

एकबालपुर पुलिस के कांस्टेबल संजय पंडा को हस्पताल में भर्ती कराया गया है , दूसरी और पुलिस ने अब तक पांच लोगों को गिरफ्तार किया है । हत्या के प्रयास, लोकसेवक को बाधा डालने और दंगा करने के साथ-साथ अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। मुख्य आरोपी इडली विक्की फरार है। एक जिंदा कारतूस और 7 एमएम पिस्टल की खाली कारतूस जब्त कि गयी है ।

पुलिस ने कहा कि संघर्ष क्षेत्र पर नियंत्रण को लेकर चल रहे गैंगवार का परिणाम था, जब एक समूह के कुछ युवाओं ने अपना गैंग बदल लिया । दोनों समूह, जिनके पास स्थानीय राजनीतिक प्रभाव है, पिछले चार महीनों से आपस में भिड़ रहे थे साथ ही उनके खिलाफ बंदरगाह क्षेत्र में विभिन्न मामले भी दर्ज हैं ।

रविवार को लगभग 2.05 बजे करीब 20-25 लोगों से जुड़े दो गुटों की समूहों में झड़प हो गई । ज्यादातर हॉकी स्टिक और छड़ लिए हुए थे , और कुछ लोग कथित तौर पर दूसरे हथियार लेकर भी ए थे । एक गुट का नेतृत्व इडली विक्की उर्फ जाहिद हुसैन कर रहा था, जिसके खिलाफ हथियारों का मामला है और दूसरे का नेतृत्व इमरान और तनवीर आलम कर रहा था , जो चुनाव के बाद एक स्थानीय प्रभावशाली व्यक्ति के तहत काम कर रहा हैं और कथित तौर पर विक्की के इलाके में घुसने की कोशिश कर रहे हैं । सूत्रों ने कहा कि क्षेत्र में उनके बीच मध्यस्थता करने के प्रयास किए गए थे, लेकिन सभी प्रयास विफल हो गए ।

“एक गंभीर कहा सुनी के बाद बड़ी वो झगडे में बदल गया। पुलिस पहुंची तो विक्की के गैंग ने उन पर हमला कर दिया। विक्की ने पुलिस पर फायरिंग की जबकि वे दोनों पक्षों को शांत करने की कोशिश कर रहे थे । ज्वाइंट सीपी (क्राइम) मुरलीधर शर्मा ने कहा, पांडा पर हमला किया गया था लेकिन गोली उसे नहीं लगी ।

पांडा द्वारा स्वत: संज्ञान लेने की शिकायत के आधार पर विक्की व 21 अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। पुलिस ने एक आरोपी-सोनू को गिरफ्तार किया । “बाद में मामले की जांच आरै कार्रवाई की गई । जांच के दौरान एफआईआर में आये चार आरोपियों-तनवीर आलम, एमडी इमरान, एमडी जहीर और फरीद आलम को गिरफ्तार किया गया । गिरफ्तार सभी को पुलिस हिरासत में लेकर प्रार्थना पत्र के साथ स्थानीय अदालत में पेश किया गया।

Leave a Reply