बिहार में शराब तस्करी करने वालों की लाइसेंस खतरे में , सरकार के रिपोर्ट के अनुसार तस्करो के अपने राज्य में होगी कार्यवाही
बिहार में शराब तस्करी करने वालों की लाइसेंस खतरे में , सरकार के रिपोर्ट के अनुसार तस्करो के अपने राज्य में होगी कार्यवाही

पटना: राज्य में शराब की तस्करी करने वाले तस्करों के खिलाफ दोहरी कार्रवाई करने की तयारी जोरो से चलने लगी है। बिहार में शराब पर प्रतिबन्ध लगने के बाद से 4,500 से अधिक गैर राज्य के शराब तस्कर पकड़े जा चुके हैं। उसके खिलाफ प्रतिबंधित कानून के तहत कार्रवाई की जा रही है , साथ इन लोगो के गुनाहों की रिपोर्ट उसके गृह राज्य और जिले को भेजी जाएगी। ताकि उनकी पहचान कर आगे की कार्रवाई आसानी से की जा सके। प्रतिबंधित विभाग ने शराब तस्करी पर प्रभावी अंकुश लगाने के लिए एक प्रस्ताव तैयार किया है।

राज्य ने 2016 से शराब पर प्रतिबंध लगा दिया है। इसके बावजूद पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, झारखंड, बंगाल और अरुणाचल प्रदेश जैसे राज्यों से शराब की तस्करी राज्य के सभी हिस्सों में की जा रही है। प्रतिबंधित पुलिस ने तब से अब तक लगभग 4500 ऐसे शराब तस्करों को पकड़ा है जो दूसरे राज्यों से थे।

अभी तक तस्करों को प्रोबेशन एक्ट के तहत गिरफ्तार कर जेल भेजा जाता था, लेकिन रिहा होते ही फिर से तस्करी सुरु कर देते थे। इसी वजह से विभाग ने फैसला किया है कि गिरफ्तारी के बाद आरोपी की पहचान उजागर करने के लिए चार्जशीट बनते ही इसकी सूचना तस्कर के गृह राज्य और जिला पुलिस को दी जाएगी।

शराब का लाइसेंस निरस्त किया जाएगा

राज्य में शराब तस्करी करने वालों अन्य राज्यों के तस्करों में से अदिकतर के पास अपने राज्य में शराब बेचने की लाइसेंस है। वे अपनी दुकान के नाम पर शराब उठाकर इसकी तस्करी बिहार में करते हैं। लेकिन गिरफ्तारी के बाद भी सबूत और जानकारी के अभाव में उसका शराब का ठेका पहले की तरह चलता रहता है। अब उनके गुनाहो की जानकारी उनके गृह राज्य को दे देने के बाद स्थानीय प्रशासन उनके शराब लाइसेंस और जुर्माने की कार्रवाई कर सकेगा। 

राज्यवार सूची तैयार की जा रही है

अब तक पकड़े गए लगभग 4,500 शराब तस्करों में से 550 बंगाल के हैं। इसके अलावा, पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, झारखंड और अन्य राज्यों से भी बड़ी संख्या में शराब तस्करों को पकड़ा गया है। प्रतिबंधित टीम ऐसे विदेशी तस्करों की राज्यवार सूची तैयार कर रही है। इसके बाद गृह राज्य को सूचना भेजी जाएगी। 

Leave a Reply