पटना : शिवानंद तिवारी ने कहा-सरकार माफी मांगने की जगह तेजश्वी से लड़ रही
पटना : शिवानंद तिवारी ने कहा-सरकार माफी मांगने की जगह तेजश्वी से लड़ रही

आरजेडी के नेता शिवानंद तिवारी ने रविवार को नीतीश सर्कार पर निशाना साधते हुए पूछा कि सत्ताधारी पार्टी अपनी सरकार की स्थिरता से इतना डरती क्यों है। उन्होंने कहा ‘तेजश्वी के बयान पर सरकार के लोगो की प्रतिक्रिया बोहोत हास्यास्पदहै । अगर आप अपनी सरकार की स्थिरता को लेकर इतने ही आश्वस्त हैं, तो बेचैनी क्यों दिखा रहें !

कोई कह रहा है कि सरकार नहीं हिलने वाली, तो कोई कह रहा है कि इसे दुनिया की कोई भी ताकत नहीं हिला सकती। इस तरह के बयान न सिर्फ प्रवक्ताओं की ओर से आ रहे हैं, बल्कि तथाकथित वरिष्ठ नेता भी इस मामले में अपने प्रवक्ताओं से होड़ करते नजर आ रहे हैं।

मुख्यमंत्री के मोहल्ले में भी पानी जमा हुआ है 

क्या है सरकार का काम, क्या है सरकारी लोगों का ध्यान! आप पंद्रह साल से सरकार चला रहे हैं फिर भी सहर में पानी निकासी की ब्यवस्था नहीं कर पाए हैं। क्या कर रहे हैं आप लोग? शहर के निचले इलाकों को छोड़ भी दिया जाये तो भी मुख्यमंत्री के मुहलते तक में घुटने तक पानी जमा हुआ है। जबकि इस वार्स 2019 के मुकाबले 70 फीसदी कम बारिश हुई है। नीतीश जी इतने लंबे समय से सरकार में हैं फिर भी आज तक बरसात के पानी के निकासी लिए नालियां नहीं बना पाए! अगर आपकी सर्कार संवेदनशील होती, तो वह लोगों को परेशान करने के लिए माफी मांगती और एक बयां के पीछे आक्रामक तरीके से नहीं भिड़ती ।

तेजश्वी के तीन महीने में सरकार गिराने वाे बयां पर भिड़ंत 

आपको बता दें कि शुक्रवार को तेजश्वी ने अपने संसदीय क्षेत्र में अपने पार्टी के कार्यकर्ताओं के सम्बोधित करते हुए कहा था कि तीन महीने में नितीश की सरकार वो गिरा देंगे। उन्होंने 17 आरजेडी के बिधायकों के संपर्क में  बात कही थी। इन बयानों के बाद बिहार में सियासी मुठभेड़ शुरू हो गई है। उपेंद्र कुशवाहा ने शनिवार को कहा था कि पांच साल से पहले दुनिआ की कोई भी ताक़त बिहार सरकार को गिराने के बारे मे सोच भी नहीं सकती। वहीँ दूसरी और रविवार को जेडीयू के प्रवक्ता निखिल मंडल ने कहा कि तेजश्वी को बिहार का मुख्यमंत्री बनने का सपना नहीं देखना चाहिए।

Leave a Reply

Close Menu